Real Estate व कंस्ट्रक्शन कंपनी का जीवन आसान बना रहे नई सोच के युवा अंकित गुप्ता

ऊंची उड़ान :-

नई दिल्ली (जनमत की पुकार )। बिजनेस की दुनिया में कुछ अलग करने के लिए दिल में जज्बा और दिमाग में एक बेहतर आइडिया का होना आवश्यक है। कहा भी गया है कि एक अच्छा आइडिया आपकी जिंदगी बदल सकता है। आज हम जिस युवा सख्सियत की बात करने जा रहे हैं, उन्होंने अपने यूनिक आइडिया के बल पर न सिर्फ अपने पारिवारिक व्यवसाय को नया आयाम दिया, बल्कि दूसरे का जीवन भी आसान बनाया।

जी हां, हम बात कर रहे हैं राजधानी दिल्ली स्थित नीलकंठ कंस्ट्रक्शन प्राईवेट लिमिटेड के अंकित गुप्ता की। सरस्वती विहार, पीतमपुरा निवासी युवा अंकित गुप्ता छात्र जीवन से ही पढ़ाई—लिखाई में टॉपर रहे। चार्टड एकाउंटेंसी (सीए) की पढ़ाई पूरी करने के बाद उनके पास नौकरी कर अच्छी सैलरी पर कार्य करने का मौका था। लेकिन ठेकेदार नरेन्द्र चन्द्र गुप्ता के पुत्र अंकित गुप्ता नौकरी से अलग कुछ बेहतर करना चाहते थे। इस प्रकार उनके दिमाग में आइडिया आया कंस्ट्रक्शन (रियल एस्टेट) कार्यों में इस्तेमाल होने वाले एक्यूपमेंट्स को किराये पर देकर जरूरतमंद बिल्डरों की मदद करने का।

गौरतलब है कि कई छोटे व मझोली रियल एस्टेट कंपनियां व व्यावसायिक भवन बनाने वाले अपना एक्यूपमेंट नहीं होने के कारण परेशानियों से गुजरते हैं और कभी—कभी उन्हें अपने प्रोजेक्ट को अधूरा तक छोड़ना पड़ता है।

उक्त समस्या का समाधान करने और ऐसे बिल्डरों को मदद पहुंचाने के उद्देश्य से ही अंकित गुप्ता ने अपने पिता नरेन्द्रचंद्र गुप्ता की सलाह से नीलकंठ कंस्ट्रक्शन प्राईवेट लिमिटेड के तहत कंस्ट्रक्शन एक्यूपमेंट किराये पर देना शुरू किया।
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम) लखनऊ से एमबीए अंकित गुप्ता की इस नई सोच ने कमाल की तेजी दिखाई और मात्र तीन वर्र्षों की छोटी अवधि में ही नीलकंठ कंस्ट्रक्शन का यह व्यवसाय आज दिल्ली से शुरू होकर ऑल इण्डिया लेवल पर अपनी सफलता का परचम लहराने को तैयार है। अगस्त 2016 में शुरू हुआ नीलकंठ कंस्ट्रक्शन का कंस्ट्रक्शन एक्यूपमेंट किराये पर देने का व्यवसाय आज देश के 19 राज्यों में सफलतापूर्वक संचालित किया जा रहा है।

रियल एस्टेट कंपनियों व व्यवसायियों के बीच कम समय में अच्छी साख व विश्वास बना चुके नीलकंठ कंस्ट्रक्शन के एक्यूपमेंट का इस्तेमाल आज देश की नामी रियल एस्टेट फर्म ही नहीं टाटा हाउसिंग व एल एण्ड टी जैसी नामी गिरामी हाउसिंग व इन्प्रQा कंपनियां भी कर रही हैं।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *