जनता को गुमराह कर रहे विधायक सतेंद्र जैन : वंदना जेटली

  • रानीबाग़ में एकसाथ कराए जा रहे अनेक विकास कार्य 

जनमत की पुकार 

नई दिल्ली। रानीबाग़ निगम वार्ड में उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अंतर्गत सबसे ज्यादा विकास कार्य करवाए जा रहे हैं, इस बात का दावा स्थानीय पार्षद वंदना जेटली ने जनमत की पुकार से बात करते हुए किया। पिछले दिनों रानीबाग़ की एक गली में सड़क निर्माण कार्य की शुरुआत करते हुए भाजपा पार्षद ने कहा कि वर्तमान में उनके द्वारा वार्ड में लगभग एक दर्जन गलियों में विकास कार्य करवाए जा रहे हैं, जो एक रिकॉर्ड है। इस दौरान वंदना जेटली ने विपक्षी आम आदमी पार्टी के स्थानीय विधायक सतेंद्र जैन पर क्षेत्र की उपेक्षा का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सतेंद्र जैन ने अपने कार्यकाल के दौरान आज तक विकास का एक भी ठोस कार्य नहीं कराया। वंदना जेटली ने कहा कि यहां की एक बड़ी समस्या सीवर की है, लेकिन विधायक व मंत्री सतेंद्र जैन ने 6 वर्षों में इस दिशा में कुछ भी नहीं किया।


इसके साथ ही पार्षद वंदना जेटली ने प्लास्टिक, गंदगी और डेंगू जैसे गंभीर विषयों पर भी बात की। उन्होंने प्लास्टिक को मानव का सबसे बड़ा दुश्मन बताते हुए लोगों से इसे त्यागने की अपील की और कहा कि प्लास्टिक का उपयोग पर्यावरण के साथ ही मानवता के लिए भी खतरनाक है। इसके साथ ही उन्होंने आम जनता से अपने घर के साथ ही घर के बाहर भी साफ-सफाई का ध्यान रखने को कहा। कुछ लोगों द्वारा विशेष अवसरों पर भंडारा आयोजित करने के बाद इस्तेमाल हुए पत्तल व डोंगों का सही निस्तारण नहीं करने पर पार्षद ने नाराजगी जतायी। ऐसे लोगों से उन्होंने गंदगी दूर करने के प्रति जिम्मेदारी निभाने की अपील की। उन्होंने कहा कि उत्तरी नगर निगम सफाई व्यवस्था बहाल कर लोगों को गंदगी व बीमारियों से दूर रखने के प्रति पूरी तरह से मुस्तैद है। डेंगू से बचाव के बारे में पूछे जाने पर पार्षद ने कहा कि डेंगू को लेकर एरिया बांट दिए गए हैं, ताकि मॉनिटरिंग व जागरूकता फ़ैलाने में आसानी हो। साथ ही इस बार विशेष सावधानी बरतते हुए मंदिरों व गुरुद्वारों में भी दवा का छिड़काव किया जा रहा है।

बातचीत के दौरान एक सवाल के जवाब में पार्षद ने विधायक सतेंद्र जैन पर लोगों को गुमराह करने का भी आरोप लगाया। उनका कहना था कि जनता द्वारा समस्याएं दूर करने या नया कार्य करवाने को कहने पर विधायक कहते हैं कि उन्हें निगम पार्षद से सहमति नहीं मिलती, लेकिन सच्चाई यह है कि उनके पास आज तक विधायक के यहां से ऐसा कोई अनुरोध आया ही नहीं है।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *