दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने कहा, ”यह पुलिसवालों के लिए परीक्षा, अपेक्षा और प्रतीक्षा की घड़ी”

जनमत की पुकार
नई दिल्ली। आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय के बाहर विरोध-प्रदर्शन कर रहे पुलिस के जवानों से दिल्ली पुलिस के कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने मुलाकात की। पटनायक ने कहा, मैं सभी से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। हमें कानून और व्यवस्था बनाए रखने और आश्वासन देने की जिम्मेदारी को पूरा करने की जरूरत है। पुलिस कमिश्नर ने कहा कि पुलिसवालों के लिए परीक्षा, अपेक्षा और प्रतीक्षा की घड़ी है। उन्होंने आगे कहा कि हम से यह अपेक्षा की जाती है कि हम कानून के रक्षक राजधानी में कानून और व्यवस्था को सुनिश्चित करना जारी रखेंगे।

विरोध प्रदर्शन के दौरान जवानों से मुलाकात करने के लिए दिल्ली पुलिस के कमिश्नर अमूल्य पटनायक मुख्यालय पहुचे तो नाराज जवानों ने अमूल्य पटनायक के सामने नारे लगाए हमारा पुलिस कमिश्नर कैसा हो, किरण बेदी जैसा हो दिल्ली पुलिस के जवान आईटीओ में पुलिस हेड क्वार्टर के बाहर दिल्ली के पूर्व विशेष पुलिस कमिश्नर किरण बेदी की एक तस्वीर के साथ प्लेकार्ड रखते हैं, जिसमें लिखा है, हमें आपकी जरूर है।

तीस हजारी कोर्ट परिसर में पार्किंग को लेकर शुरू हुए विवाद के बाद वकीलों और पुलिसकर्मियों के बीच भड़की हिंसा के विरोध में मंगलवार को हजारों पुलिसकर्मियों ने आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस हेडक्वार्टर के बाहर भारी संख्या में दिल्ली पुलिस के जवान इकट्ठा हुए हैं।

जवान अपने हाथ में काली पट्टी बांधकर पहुंचे हैं और वकीलों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शन कर रहे जवानों का कहना है कि हमारे साथ ज्यादती हो रही है, वो बिल्कुल गलत है। उन्होंने कहा कि हम शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन करेंगे और कमिश्नर से अपनी बात कहेंगे। उन्होंने आगे कहा की हमें वर्दी पहनने से डर लगता है। क्योंकि वर्दी देखते ही वकील पुलिस जवानों को पीट रहे हैं।

बता दें कि कल बार एसोसिएशनों ने 24 घंटे की हड़ताल का आह्वान किया था जिसके बाद दिल्ली हाईकोर्ट और सभी निचले कोर्ट के वकील ने काम नहीं किया। दिल्ली के अलावा देश के कई अन्य शहरों में भी ऐसे मामले देखने को मिले है। प्रदर्शन कर रहे पुलिस जवानों से डीसीपी ने अपील की है कि अभी कोर्ट का ऑर्डर आया है, आप लोग संयम रखें। सीनियर लेवल पर इस मामले पर चर्चा चल रही है, लेकिन जवान यहां प्रदर्शन ना करें और अपनी ड्यूटी पर लौटें।

 

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *