आईटीबीपी के कोरोना वायरस पृथक केंद्र में भर्ती 404 लोगों के नमूनों की अंतिम जांच शुरू

जनमत की पुकार
नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित आईटीबीपी के कोरोना वायरस पृथक केंद्र में भर्ती 404 संदिग्धों की अंतिम जांच के लिए नमूने लिये जा रहे हैं ताकि यह निर्धारित किया जा सके कि उन्हें अगले कुछ दिनों में छुट्टी दी जा सकती है अथवा नहीं । वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी । चीन में फैले घातक कोरोना वायरस के बाद इन लोगों को वहां से लाया गया था और इस महीने की शुरूआत से ही उन्हें इस केंद्र में निगरानी और जांच के लिए रखा गया था।

आईटीबीपी के प्रवक्ता विवेक कुमार पांडेय ने बताया, ‘‘पृथक केंद्र में निगरानी के लिए रखे गये सभी 404 लोगों के अंतिम नमूने चिकित्सकों के एक दल द्वारा लिए जा रहे हैं। इस दौरान 200 नमूने लिये गये हैं, बाकी के नमूने आगे लिये जायेंगे।’’ कुछ समय पहले पहला नमूना लिया गया था जिनमें कोरोना वायरस की पुष्टि नहीं हुई थी। पांडेय ने बताया कि नमूनों के ताजा रिपोर्ट के आधार पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों की मंजूरी के बाद इन लोगों को अगले कुछ दिनों में छुट्टी देने के बारे में निर्णय किया जाएगा।

सरकार ने कोरोना वायरस के आलोक में दो वृहद पृथक केंद्र का निर्माण किया है। एक केंद्र राष्ट्रीय राजधानी के छावला में स्थित है जिसका संचालन भारत तिब्बत सीमा पुलिस कर रही है, जबकि दूसरा केंद्र मानेसर में बनाया गया है, जिसका संचालन सेना कर रही है। आईटीबीपी संचालित केंद्र में भारतीयों के अलावा मालदीव के सात नागरिक हैं, जिन्हें भोजन, बिस्तर, टीवी, इंटरनेट और इंडोर गेम्स जैसी सुविधाएं मुहैया कराया जा रही हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने कहा कि कुल 2315 विमानों से यात्रा करने वाले दो लाख 51 हजार 447 लोगों की जांच की जा चुकी है।

 

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *