गौतम गंभीर क्रिकेट के बाद अब खेलेंगे राजनीति की ‘पिच’ पर, इस सीट से लड़ सकते हैं चुनाव

भारतीय जनता पार्टी ने 2019 लोकसभा चुनावों के लिए तैयारियां जोरों से शुरू कर दी हैं। इस साल एक बार फिर से बीजेपी दिल्ली की सातों सीट पर क्लीन स्वीप करना चाहती है। इस चुनावों के लिए बीजेपी ने अपना नया मास्टरप्लान बना दिया है। बता दें कि दिल्ली की तीन सीटों पर बीजेपी अपने कैंडीडेट बदल रही है।

खबरों की मानें तो दिल्ली की सातों सीटों के सांसदों के कामकाज का ब्योरा बीजेपी जनता से फीडबैक के जरिए ले रही है। बीजेपी पार्टी यह फीडबैक अपनी नमो एप के द्वारा ले रही है। बता दें कि बीजेपी ने लोगों से कहा है कि वह इस एप के जरिए अपने सांसदों के कामकाज के फीडबैक दें।

गौतम गंभीर को टिकट दे सकती है बीजेपी

बीजेपी के इस फीडबैक में आया है कि लोग इन तीनों सांसदों के कामकाज से दुखी है। इसी वजह से बीजेपी अपने इन तीनों लोकसभा सीटों के लिए सांसद बदल रही है। इसमें से नई दिल्ली लोकसभा सीट के लिए वह पूर्व क्रिकेटर को यह सीट देकर सांसर बना सकती है।

ऐसी खबरें आ रही हैं कि इस सीट के लिए वह भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर को टिकट दे सकती है। बीजेपी की मीनाक्षी लेखी नई दिल्ली से सांसद हैं और कई बार देखा गया है कि सोशल मीडिया के जरिए गौतम गंभीर आम आदमी पार्टी की सरकार पर आलोचना की है।

डॉ. हर्षवर्धन को पूर्वी दिल्ली का टिकट दे सकती है

इसके अलावा बीजेपी पार्टी पूर्वी दिल्ली से केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को टिकट दे सकती है। अभी फिलहाल बीजेपी पार्टी के सांसद महेश गिरी इस सीट पर सासंद हैं। इस समय चांदनी चौक से डॉ. हर्षवर्धन लोकसभा सांसद हैं और वह बीजेपी के शीर्ष नेताओं में से एक हैं और इतना ही नहीं दिल्ली की जनता पर भी उनकी पकड़ अच्छी खासी है।

 

चांदनी चौक सीट पर साल 2014 के लोकसभा चुनावों में डॉ. हर्षवर्धन ने आप पार्टी के कैंडिडेट आशुतोष और कांग्रेस के दिग्गज नेता कपिल सिब्बल को हराया था। लेकिन इस बार के चुनावों में पार्टी उनकी सीट बदलकर उन्हें पूर्वी दिल्ली से टिकट देने की सोच रही है।

भारतीय जनता पार्टी इन लोकसभा चुनावों में किसी भी तरह का जोखिम नहीं ले सकती है। इसी वजह से पार्टी को जिस सांसद का फीडबैक अच्छा नहीं मिल रहा है पार्टी या तो उनकी सीट बदलने जा रही है या उनकी जगह किसी दूसरे को टिकट देने जा रही है। इसी वजह से बीजेपी एक और सीट पर कैंडिडेट बदलने का सोच रही है।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *