नेताओं के बीच सोशल मीडिया पर दिल्ली को लेकर छिड़ी जंग

नई दिल्ली। दिल्ली के मुद्दों को लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) और भाजपा नेताओं के बीच बुधवार को ट्विटर पर तीखे आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला देखने को मिला। हैरानी की बात यह है कि आरोपों के तीर जातिगत स्तर तक जा पहुंचे। सोशल मीडिया की इस गहमा गहमी में एक तरफ AAP संयोजक अरविंद केजरीवाल और भाजपा विधायक विजेन्द्र गुप्ता ने मोर्चा संभाला, वहीं दूसरी ओर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया एवं भाजपा के प्रवक्ता हरीश खुराना ने एक दूसरे पर आरोपों के जमकर तीर चलाये।

दोनों पक्षों के बीच तीखी बहस का मुद्दा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की मांग और दिल्ली सरकार की उपलब्धियां से जुड़ा था। इसकी शुरुआत दोपहर दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुप्ता द्वारा केजरीवाल पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाने से हुयी। गुप्ता के हवाले से दिल्ली भाजपा द्वारा ट्वीट कर कहा गया, ‘केजरीवाल जी आपकी ओछी हरकतों, झूठ और फरेब की राजनीति से पता चलता है कि आप किस खानदान से हैं।

केजरीवाल द्वारा पूर्ण राज्य के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दिल्ली की जनता से झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए भाजपा का चुनावी घोषणापत्र जलाए जाने के बाद गुप्ता ने कहा कि आप नेता झूठ बोल रहे हैं। केजरीवाल ने गुप्ता के आरोप को ‘जातिगत हमला’ बताते हुए ट्विटर पर कहा, ‘‘विजेंदर जी, आपकी मुझसे लड़ाई है। जो कहना है मुझे कहिए, मेरे खानदान को गाली मत दीजिए। मैं अग्रवाल खानदान से हूँ और इस बात का मुझे गर्व है। अग्रवाल समाज ने देश की तरक़्क़ी में अहम भूमिका निभाई है। अपनी गंदी राजनीति में अग्रवाल समाज को मत घसीटिए।’

स दौरान दिल्ली सरकार की उपलब्धियों के मुद्दे पर सिसोदिया और खुराना के बीच भी ट्िवटर पर कई घंटों तक आरोपों का दौर चला। सिसोदिया ने आप सरकार के कामों का हवाल देते हुये भाजपा पर पूर्ण राज्य के मुद्दे पर जनता से झूठ बोलने का आरोप लगाया। सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ‘जो वादे चुनाव में किए उससे ज्यादा काम हो रहा है दिल्ली में हरीश खुराना जी! लेकिन पूर्ण राज्य का वादा तो आपके मेनिफेस्टो में था उस पर आप लोगों ने यू-टर्न क्यों ले लिया?’

इसके जवाब में खुराना ने कहा, ‘जो चीका तुम्हारे पास है नहीं, उसका रोना रो रहे हो और जो है उससे भी बहुत कुछ किया जा सकता था। लेकिन हुआ नहीं। जब आप सत्ता में आए थे आपको पता था ना, आपके पास क्या अधिकार हैं? अब वादे पूरे नहीं हुए तो बहाना। सिसोदिया, चुनाव के पास ही क्यों पूर्ण राज्य की माँग, पहले क्यों नहीं?’ट्िवटर पर दोनों नेताओं के बीच दोपहर शुरु हुआ जवाबी हमलों का सिलसिला देर शाम तक जारी रहा।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *