केजरीवाल के मंत्री ने बताया आखिर दिल्ली में क्यों नहीं लागू की गई आयुष्मान भारत योजना

नई दिल्ली। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने आयुष्मान भारत योजना पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि इस योजना से दिल्ली में कोई फायदा नहीं होगा। सतेंद्र जैन ने कहा कि उत्तर प्रदेश और हरियाणा में इसे पहले ही लागू किया जा चुका है लेकिन फिर भी मरीज इलाज के लिए दिल्ली क्यों आते हैं? अगर दिल्ली में इसे लागू कर दिया गया तो इससे क्या होगा?

सतेंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली की जनसंख्या दो करोड़ है, लेकिन इस योजना से यहां पर सिर्फ 10 लाख लोगों को ही लाभ होगा। स्वास्थ्य मंत्री ने दावा किया कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार 100 फीसद लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवा रही है। दिल्ली में गरीब और अमीर सभी को बेहतर सुविधाएं दी जा रही हैं।

सतेंद्र जैन की यह प्रतिक्रिया दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने आयुष्मान भारत योजना को दिल्ली में लागू नहीं करने का आरोप लगाया था। सोमवार को मनोज तिवारी ने कहा था कि मुफ्त सफर कराने की योजना के नाम केजरीवाल लोगों को गुमराह कर रहे हैं। अगर उन्हें कोई योजना लागू करनी है तो पहले आयुष्मान भारत योजना को लागू करें, ताकि गरीबों को लाभ मिले।

क्या है आयुष्मान भारत योजना?
-आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रत्येक परिवार को प्रतिवर्ष इलाज के लिए 5 लाख रुपये तक का बीमा कवर मिलेगा।
-देश में 1.5 लाख गांव में हेल्थ और वेलनेस सेंटर खुलेंगे। यहां सिर्फ बीमारी का इलाज ही नही होगा बल्कि यहां पर हेल्थ चेकअप की सुविधा भी मिलेगी।
-आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रत्येक परिवार को प्रतिवर्ष इलाज के लिए 5 लाख रुपए तक का बीमा कवर मिलेगा। इस योजना से देश के 10 करोड़ परिवारों और 50 करोड़ लोगों को फायदा होने की संभावना है।

-यह योजना राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना और सीनियर सिटीजन इंश्योरेंस स्कीम का स्थान लेगी।

-बीमा कवर के लिए उम्र की भी बाध्यता नहीं रहेगी।

-इसमें पहले से मौजूद बीमारियां भी कवर होंगी।

-ये स्कीम कैशलेस होगी और इसमे परिवार के सदस्यों और उम्र का बंधन नहीं होगा।

-योजना में रजिस्टर्ड किसी भी प्राइवेट या सरकारी अस्पताल में इलाज हो सकेगा

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *