मोदी सरकार दे सकती है बड़ी सौगात, एक कार्ड से मेट्रो यात्री देशभर में कर सकेंगे सफर

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र में सत्तासीन राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार देशभर के मेट्रो यात्रियों को आगामी कुछ महीनों में बड़ा तोहफा दे सकती है। दरअसल, वन नेशन वन कार्ड योजना पर काम हो रहा है। योजना लागू होने पर देश के किसी भी शहर की मेट्रो में एक ही कार्ड से सफर किया जा सकेगा।

जानकारी के मुताबिक, वन नेशन वन कार्ड की व्यवस्था लागू होने पर एक शहर के मेट्रो कार्ड से कोई भी व्यक्ति देश भर की किसी भी मेट्रो में अपनी यात्रा को बिना किसी परेशानी के कर सकेगा। जानकारों की मानें तो वन नेशन वन कार्ड की परियोजना पर तेजी से काम हो रहा है और अगले 6 महीने में इसके लॉन्च होने की पूरी उम्मीद जताई जा रही है।

इस परियोजना से जुड़े अधिकारियों की मानें तो वन नेशन वन कार्ड डेबिट या क्रेडिट कार्ड की तरह ही होगा और इसे इस्तेमाल करना भी बेहद आसान होगा। कार्ड छोटा होने के चलते आप इसे अपने पर्स में रख सकेंगे। ऐसी व्यवस्था भी की जा रही है कि कार्ड चोरी होने या फिर गुम होने की स्थिति में इसे ब्लॉक करवाने के साथ नया भी बनवाया जा सके।

बताया जा रहा है कि वन नेशन वन कार्ड देश की सभी मेट्रो में इस्तेमाल किया जा सकेगा, लेकिन साथ ही इसका इस्तेमाल सीमित यात्राओं के लिए किया जा सकेगा। यह भी कहा जा रहा है कि अऩ्य शहर में मेट्रो कार्ड के इस्तेमाल के लिए यात्रियों को सिर्फ अपना कार्ड काउंटर पर जाकर चार्ज कराना होगा।

फूलफ्रूफ होगा वन नेशन वन कार्ड
मिली जानकारी के मुताबिक, कार्ड का इस्तेमाल दूसरा शख्स न कर सके, इसकी भी व्यवस्था की जाएगी। वन नेशन वन कार्ड को प्राप्त करने के लिए केवाईसी (Know your Customer) की प्रक्रिया का पालन करना जरूरी होगा। जो जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक वन नेशन वन कार्ड चयनित बैंकों से बनवाए जा सकेंगे  और इसे बनवाने के लिए पासपोर्ट और आधार कार्ड जरूरी होगा। वहीं, विदेशी नागरिकों को यात्रा के लिए पहचान पत्र के तौर पर पासपोर्ट की प्रति जमा करानी होगी, जिसके बाद कार्ड जारी होगा।

सबकुछ ठीक रहा है तो वन नेशन वन कार्ड आगामी छह महीनों में जारी हो सकता है, हालांकि कुछ जानकारों का यह भी कहना है कि प्रक्रिया पूरी करने में साल बीत जाएगा यानी यह 2020 के जनवरी महीने में लॉन्च हो पाएगा।

वर्तमान में दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (Delhi Metro Rail Corporation) द्वारा एक मेट्रो कार्ड जारी किया जाता है। इसके अलावा दिल्ली मेट्रो टोकन भी जारी करता है, जिससे लोग एक जगह से दूसरी जगह मेट्रो में यात्रा करते हैं। सिर्फ नोएडा-ग्रेटर नोएडा में इसी साल जनवरी महीने से चलने वाली एक्वा लाइन मेट्रो में अलग से कार्ड जारी किया गया है, जो अन्य मेट्रो सेवाओं में काम नहीं करता। इसी तरह एक्वा लाइन में दिल्ली मेट्रो का कार्ड काम नहीं करता है।

नोएडा-ग्रेटर मेट्रो में भी चलता है स्मार्ट कार्ड
यहां पर बता दें कि नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन एक्वा लाइन (नोएडा-ग्रेटर नोएडा) मेट्रो के में यात्रियों को स्मार्ट कार्ड देता है। यह सिर्फ उन्हीं लोगों को मिल पाता है, जिनके पास वोटर कार्ड, डीएल या पासपोर्ट हैं। यहां तक की आधार कार्ड भी इसमें मान्य नहीं है।

स्मार्ट कार्ड से मिलेंगी कई सुविधाएं 
एक्वा लाइन का स्मार्ट कार्ड ब्लू लाइन की तरह सामान्य नहीं है। इसका इस्तेमाल मेट्रो में सफर के अलावा, एनएमआरसी की बसों में व डेबिट और क्रेडिट कार्ड की तरह किया जा सकेगा। इसलिए सुरक्षा की प्राथमिकता को ध्यान में रखते हुए केवाईसी के आधार पर ही यह स्मार्ट कार्ड किट मिल रही है। केवाईसी में सरकारी आईडी प्रूफ ही मान्य है। इसे एनएमआरसी ने एसबीआई के साथ मिलकर बनाया है। इस कार्ड को एक लाख रुपये तक का रिचार्ज कराया जा सकता है।

स्मार्ट कार्ड की खूबी 

  • शुरुआत में यह स्मार्ट कार्ड केवल मेट्रो के लिए काम करेगा
  • इसके दो महीने बाद डेबिट कार्ड व क्रेडिट कार्ड वाले फीचर भी शुरू कर दिए जाएंगे
  • एनएमआरसी की बसों में व डेबिट और क्रेडिट कार्ड की तरह इसका इस्तेमाल किया जा सकेगा
Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *