लापता तेजस्‍वी को ले सवाल पर भड़कीं राबड़ी देवी

पटना [जेएनएन]। बिहार विधानमंडल के मानसून सत्र के पहले दिन विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव के आने की उम्‍मीद थी, लेकिन वे नहीं पहुंचे। इसे लेकर राबड़ी देवी ने पहले तो बेतुका बयान दिया, फिर अपनी बात को संभाला। उन्‍होंने राज्‍य में इंसेफेलाइटिस से बच्‍चों की मौत के लिए सरकार को जिम्‍मेदार ठहराया तथा इसपर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान का समर्थन किया।

अज्ञातवास पर तेजस्‍वी यादव 
विदित हो कि लोकसभा चुनाव में महागठबंधन की हार के बाद से राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्‍वी यादव सक्रिय राजनीति से दूर अज्ञातवास पर हैं। वे सोशल मीडिया से भी दूर हैं। इस बीच इंसेफेलाइटिस से बच्‍चों की मौत सहित कई अन्‍य बड़े मुद्दों पर उनकी चुप्‍पी पर सत्‍ता पक्ष ने सवाल उठाए तो आरजेडी ने कहा था कि तेजस्‍वी बीमार हैं और जल्‍द ही पटना लौट रहे हैं।

सत्र के पहले दिन भी नहीं पहुंचे नेता प्रतिपक्ष 
विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव के विधानमंडल सत्र में उपस्थित रहने की उम्‍मीद थी, लेकिन सत्र के पहले दिन भी वे नहीं पहुंचे। इसके पहले अारजेडी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने दावा किया था कि तेजस्‍वी सदन में पहले दिन मौजूद रहेंगे। माना जा रहा था कि बिहार की राजनीति से गायब तेजस्‍वी यादव करीब महीने भर बाद प्रकट हो सकते हैं।

तेजस्‍वी को ले सवाल पर भड़कीं राबड़ी, कही ये बात 
तेजस्‍वी यादव के विधानमंडल सत्र में नहीं आने को लेकर जब उनकी मां व बिहार विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष राबड़ी देवी से पूछा गया, तब वे भड़क गईं। मीडिया के सवाल के जवाब में उन्‍होंने कहा कि तेजस्‍वी ‘आपके घर’ में हैं। बाद में जल्‍दी ही उन्‍होंने अपनी बात को संभाल लिया। फिर कहा कि तेजस्‍वी बैठे नहीं हैं, वे अपना काम कर रहे हैं। वे जल्‍दी ही समाने आएंगे।

बच्‍चों की मौत पर इस्‍तीफा दें स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री 
राबड़ी देवी ने बिहार में इंसेफेलाइटिस से बच्‍चों की मौत के लिए सरकार की लापरवाही को जिम्‍मेदार ठहराया। उन्‍होंने कहा कि अभी तक कोई व्‍यवस्‍था नहीं बन सकी है। बच्‍चों को खाने का अनाज तक नही मिला है। घटना के लिए बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय को इस्‍तीफा देना चाहिए। अगर वे इस्‍तीफा नहीं देते हैं तो मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को उन्‍हें बर्खास्‍त करना चाहिए।

प्रधानमंत्री के बयान का किया समर्थन 
राबड़ी देवी ने इंसेफेलाइटिस से बड़े पैमाने पर बच्‍चों की मौत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान का भी समर्थन किया, जिसमें उन्‍होंने इसे शर्मनाक करार दिया था। राबड़ी ने कहा कि प्रधानमंत्री भी मंगल पांडेय की बर्खास्‍तगी की पहले करें।

विदित हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राज्यसभा में अपने अभिभाषण के दौरान कहा था कि चमकी बुखार या एईएस के कारण बिहार में हुईं मौतें दुर्भाग्यपूर्ण हैं और यह हमारे लिए शर्म की बात है। उन्‍होंने कहा था कि पिछले सात दशकों में हमारी विफलताओं में से ये भी एक बड़ी विफलता है। हमें इसे गंभीरता से लेना होगा।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *